Best vakya ke bhed:वाक्य किसे कहते हैं इसके कितने भेद हैं?

वाक्य किसे कहते हैं? (vakya ki paribhasha):-

व्याकरण के नियमों के अनुसार सजाये गये सार्थक शब्दों के जिस समूह से कोई तात्पर्य स्पष्ट रूप से प्रकट हो जाय, उसे ‘वाक्य’ कहते हैं; जैसे- उमेश पुस्तक पढ़ता है। रानी गीत गाती है। इन शब्द-समूहों से लेखक या वक्ता का पूरा भाव व्यक्त हो जाता है, अतः ये वाक्य है।

vakya ke bhed:-

vakya ke bhed:वाक्य किसे कहते हैं इसके कितने भेद हैं?

वाक्य के कितने भेद होते हैं?vakya ke kitne bhed hote hain:-

सामान्यतः दो आधारों पर वाक्यों के भेद किये जाते हैं:-(क) रचना के आधार पर (ख) अर्थ के आधार पर

रचना के आधार पर वाक्य के भेद(Rachna ke aadhar par vakya ke bhed):-

रचना के आधार पर वाक्य के निम्नलिखित तीन भेद है:-

१. सरल वाक्य:- जिस वाक्य में एक ही उपवाक्य हो, उसे सरल वाक्य कहते हैं। दूसरे शब्दों में जिस वाक्य में एक क्रिया होती है और एक कर्ता होता है, उसे सरल वाक्य कहते हैं। इसमें एक उद्देश्य और एक विधेय रहता है, जैसे- लड़का घर जाती है। राकेश पुस्तक पढ़ता है।

२. मिश्र वाक्य:- जिस वाक्य में एक सरल वाक्य के अतिरिक्त एक या एक से अधिक आश्रित उपवाक्य भी हो उसे मिश्र वाक्य कहते हैं; जैसे यह वहीं नगर है जिसमें मैं वर्षों तक रहा था।

३. संयुक्त वाक्य:- जिस वाक्य में दो या दो से अधिक सरल या मिश्र वाक्य अव्यय के द्वारा जुड़े हो, उसे संयुक्त वाक्य कहते हैं, जैसे – बादल घिरे और मयूर नाचने लगे।

अर्थ के आधार पर वाक्यों के भेद (arth ke aadhar par vakya ke bhed):-

Arth ke aadhar par vakya ke bhed मुख्यतः आठ भेद होते हैं:-

१. विधिवाचक वाक्य:- जिस वाक्य से किसी बात के होने का बोध हो, उसे विधिवाचक वाक्य कहते हैं, जैसे-अच्छे शिक्षक अच्छी पुस्तकें चाहते है। मैं पढ़ा चुका, तो वह आया।

२. निषेधवाचक वाक्य:- जिस वाक्य से किसी बात के न होने का बोध होता है उसे निषेधवाचक वाक्य कहते हैं, जैसे मेधावी छात्र परीक्षा में चोरी नहीं करते।

३. आज्ञावाचक वाक्य:- जिस वाक्य से आज्ञा, अनुरोध या आदेश आदि भाव प्रकट हों, उसे आज्ञावाचक वाक्य कहते हैं, जैसे- हमेसा सच बोलो। अच्छी किताब ही पढ़ो।

४. प्रश्नवाचक वाक्य:- जिस वाक्य से किसी प्रकार के प्रश्न किये जाने का बोध हो, उसे प्रश्रवाचक वाक्य कहते हैं: जैसे-अच्छे आदमी की पहचान क्या है ? बड़प्पन की निशानी क्या है ?

५. विस्मयादिबोधक वाक्य जिस वाक्य से विस्मय, हर्ष, दुःख, घृणा, तिरस्कार इत्यादि का भाव व्यंजित हो, उसे विस्मयादिबोधक वाक्य कहते हैं, जैसे ओह दर्द के मारे सिर फटा जा रहा है। वाह रे बहादुर तुमने देश के लिए क्या नहीं किया।

६. इच्छावाचक वाक्य- जिस वाक्य से इच्छा या शुभकामना का भाव प्रकट होता हो, उसे इच्छावाचक वाक्य कहते हैं; जैसे – भगवान आपको खुस रखे।

७. सन्देहवाचक वाक्य:- जिस वाक्य से किसी प्रकार के संदेह का भाव प्रकट हो, उसे संदेहवाचक वाक्य कहते हैं, जैसे- बच्ची सौ रही होगी। उसने हिसाब बना लिया होगा।

८. संकेतवाचक वाक्य:- जिस वाक्य से किसी शर्त या संकेत का बोध हो, उसे संकेतवाचक वाक्य कहते हैं, जैसे- यदि तुम पढ़ते तो आज यह नौबत नहीं आती। यदि बाढ़ नहीं आती, तो इतनी बर्बादी नहीं होती।

░I░m░p░o░r░t░a░n░t░ ░T░o░p░i░c░s░

पर्यायवाची शब्द? विलोम शब्द? क्रिया विशेषण?

Tense in Hindi संज्ञा की परिभाषा? विशेषण शब्द लिस्ट?

सर्वनाम किसे कहते हैं? पदबंध class 10

मिश्र वाक्य (mishra vakya):-

मिश्र वाक्यों का उपवाक्यों से क्या संबंध है।

मिश्र वाक्य का निर्माण उपवाक्यों के बिना हो ही नहीं सकता है। अतः मिश्र वाक्य का उपवाक्यों से घनिष्ठ संबंध है।

उपवाक्य ऐसे पद-समूह को कहते हैं, जो एक वाक्य का अंग हो, जिसमें उद्देश्य और विधेय हो तथा जिसका अपना अर्थ हो।

उपवाक्य तीन तरह के होते हैं – (१) संज्ञा उपवाक्य, (२) विशेषण उपवाक्य और (३) क्रियाविशेषण उपवाक्य

१. मिश्र वाक्य में संज्ञा उपवाक्य मुख्य उपवाक्य की क्रिया का कर्ता, कर्म या पूरक बनकर आता है, जैसे- राम ने कहा कि मैं गाँव छोड़ दूँगा। इस मिश्र वाक्य में ‘मैं गाँव छोड़ दूंगा’ ‘कहा’ क्रिया का कर्म है।

२. मिश्र वाक्य में विशेषण उपवाक्य मुख्य उपवाक्य की किसी संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बतलाता है। जैसे- दिल्ली, जो भारतवर्ष की राजधानी है, एक ऐतिहासिक नगरी है।

३. मिश्र वाक्य में क्रियाविशेषण उपवाक्य मुख्य उपवाक्य में आयी हुई क्रिया की विशेषता बतलाता है; जैसे-जब मैं आया था, तब तुम गाना गा रहे थे। यहाँ ‘जब मैं आया था क्रियाविशेषण उपवाक्य है जो ‘गा रहे थे’ क्रिया की विशेषता बतलाता है।

वाक्य के कितने भेद होते हैं Class 10?

अर्थ के आधार पर वाक्य के मुख्यतः आठ भेद होते हैं:- १. विधिवाचक वाक्य, २. निषेधवाचक वाक्य, ३. आज्ञावाचक वाक्य, ४. प्रश्नवाचक वाक्य, ५. विस्मयादिबोधक वाक्य, ६. इच्छावाचक वाक्य, ७. सन्देहवाचक वाक्य, ८. संकेतवाचक वाक्य ।
रचना के आधार पर वाक्य के मुख्यतः तीन भेद है:- १. सरल वाक्य, २. मिश्र वाक्य, ३. संयुक्त वाक्य

कौन सा मिश्र वाक्य है?

जिस वाक्य में एक सरल वाक्य के अतिरिक्त एक या एक से अधिक आश्रित उपवाक्य भी हो उसे मिश्र वाक्य कहते हैं; जैसे यह वहीं नगर है जिसमें मैं वर्षों तक रहा था।

Tags:- वाक्य, वाक्य किसे कहते हैं, vakya ke bhed, sanyukt vakya, mishra vakya, vakya ke kitne bhed hote hain, vakya ke bhed class 10, arth ke aadhar par vakya ke bhed, rachna ke aadhar par vakya ke bhed, vakya ke bhed class 9, rachna ke aadhar par vakya ke bhed class 10, vakya ke bhed in hindi.

  • Google Word Coach, Best word game in the search results

    गूगल वर्ड कोच क्या है? What is Google Word Coach? वर्ड कोच मूल रूप से आपकी शब्दावली को मजबूत करने के लिए एक खेल है। जी हां, Google का शब्दावली गेम जो Google पर हर शब्द ज्ञान खोज के ठीक बाद दिखाई देता है। यह आपसे एक शब्द समस्या पूछता है और आपको एक चुनाव … Read more

  • Best Lemon Farming in India – नींबू की खेती कैसे करें?

    Lemon Farming in India – नींबू की खेती कैसे करें? नींबू का उत्पादन व्यापारिक दृष्टिकोण से उष्णकटिबंधीय एवं उप उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में की जाती है भारत दुनिया के देशो में लाईम एवं लेमन उत्पादन में पाँचवा स्थान रखता है। नींबू की खेती के लिए जलवायु एवं मिट्टी केसा होना चाहिए। एसिड लाईम के लिए उष्णकटिबंधीय … Read more

  • Kalmegh in hindi – कालमेघ क्या है? कालमेघ की खेती कैसे करें?

    कालमेघ क्या है? What is Kalmegh in Hindi? आयुर्वेद में पेट संबंधी रोगों में प्रयुक्त होने वाले पौधों में कालमेघ एक प्रमुख औषधीय पौधा है। तिक्त गुण के कारण यह चिरैता (swaritiya chiraita) के स्थानापन्न द्रव्य के रूप में भी प्रयुक्त होता है। राज्य में यह चिरायता के नाम से जाना जाता है। घरेलू माँग … Read more

  • Soybean in Hindi – No.1 सोयाबीन की खेती करने का तरीका

    सोयाबीन परिचय (Soybean in Hindi):- सोयाबीन विश्व की सबसे महत्वपूर्ण तेलहनीवल फसल है. यह एक बहुदेशीय व एक वर्षीय पौधे की फसल है। यह भारत की नंबर वन तेलहनी फसल है, सोयाबीन का वनस्पति नाम गलाइसीन मैक्स है। इसका कुल लम्युमिनेसों के रूप में बहुत कम उपयोग किया जाता है सोयाबीन का उद्गम स्थान अमेरिका … Read more

  • Best Cultivate Peanuts in Hindi ! मूंगफली की खेती कैसे करे !

    Cultivate Peanuts in Hindi ! मूंगफली की खेती:- मूँगफली खरीफ की एक महत्वपूर्ण तिलहनी फसल है। यह खाद्य तेल का बहुत अच्छा स्रोत है। हमारे देश में मूँगफली का उपयोग तेल (80 प्रतिशत), बीज (12 प्रतिशत), घरेलू उपयोग (6 प्रतिशत) एवं निर्यात (2 प्रतिशत) के रूप में होता है। मूँगफली के दानों में 45 प्रतिशत … Read more

  • 250+ Best Vartani Shabd – शुद्ध वर्तनी शब्द – अर्थ, उदाहरण

    Vartani Shabd – शुद्ध वर्तनी शब्द अर्थ, उदाहरण:- एक ही शब्द का लेखन अनेक प्रकार से किया जाता है। इस अव्यवस्था के कारण हिन्दी सीखनेवालों तथा दूसरे लोगों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।विभिन्न परीक्षाओं में शुद्ध अशुद्ध वर्तनी से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। कुछ शब्दों के प्रयोग में तो भारी माथापच्ची … Read more

Leave a Comment