Best padbandh class 10: पदबंध (Phrase) के कितने भेद होते हैं

Padbandh class 10: पदबंध:-

वाक्य के उस भाग को जिसमें एक से अधिक पद परस्पर सम्बद्ध होकर अर्थ तो देते हैं, पर पूरा अर्थ नहीं देते, पदबन्ध कहते हैं। पदबन्ध को वाक्यांश भी कहते हैं, जैसे- भोजन करने के पहले मैंने स्नान किया। इस वाक्य में भोजन करने के पहले पदबन्ध है।

Padbandh class 10: पदबंध (Phrase) के कितने भेद होते हैं?

पदबन्ध में मुख्यतः तीन बातों का होना आवश्यक हैl

(1) इसमें एक से अधिक पद होते हैं।

(2) पद इस तरह से सम्बद्ध होते हैं कि इनसे एक इकाई का निर्माण हो जाता है।

(3) पदबन्ध किसी वाक्य का अंश होता है।

पदबन्ध के कार्य क्या है?

१. संज्ञा का कार्य संपादित करना – जैसे रात भर जगनेवाला दिन में क्या काम करेगा ? यहाँ ‘रात भर जगनेवाला’ पद-समूह संज्ञा का कार्य कर रहा है।

२. सर्वनाम का कार्य संपादित करना जैसे इतनी व्यस्तता में रहने वाला मैं कभी सुख-चैन की जिंदगी नहीं बिता सका। यहां इतनी व्यस्तता में रहने वाला पद-समूह सर्वनाम का कार्य कर रहा है।

३. विशेषण का कार्य संपादित करना -जैसे- हाथ में आये हुए रुपये को भला कौन छोड़ता है। यहाँ ‘हाथ में आये हुए पद-समूह विशेषण का कार्य कर रहा है।

४. क्रिया का कार्य संपादित करना जैसे जब देखो वह रोता-कलपता रहता है। यहाँ रोता-कलपता रहता है’ पद-समूह क्रिया का कार्य कर रहा है।

५. क्रिया विशेषण का कार्य संपादित करना जैसे वह फुलवारी में टहलते हुए चिल्लाया। यहाँ ‘टहलते हुए’ पद-समूह क्रिया विशेषण का कार्य कर रहा है।

पदबंध के कितने भेद होते हैं?(padbandh ke kitne bhed hote hain):-

padbandh ke bhed- पदबन्ध के मुख्यतः पाँच भेद होते हैं:-

१. सज्ञा पदबन्ध

२. सर्वनाम पदबन्ध

३. विशेषण पदबन्ध

४. क्रिया पदबन्ध

५ क्रिया विशेषण पदबन्ध

१. संज्ञा पदबन्ध:- संज्ञा का कार्य करने वाले पदसमूह को संज्ञा पदबन्ध कहते हैं। जैसे रात को खाना देनेवाला आज गांव चला गया।

२. सर्वनाम पदबन्ध:- सर्वनाम का कार्य करने वाले पद-समूह को सर्वनाम पदबन्ध कहते हैं, जैसे- इतनी शीघ्रता से काम करनेवाला (मैं) कभी सफल नहीं हो सकता।

३. विशेषण पदबन्ध:- किसी संज्ञा अथवा सर्वनाम की विशेषता बतलाने वाले पद-समूह को विशेषण पदबन्ध कहते हैं, जैसे देश पर मर मिटनेवाले लोग हमेशा के लिए अमर हो गये।

४. क्रिया पदबन्ध:- क्रिया का कार्य करने वाले पदसमूह को क्रिया पदबन्ध कहते हैं; जैसे -गुलाब का पौधा प्रतिदिन फलता-फूलता जा रहा है।

५. क्रियाविशेषण पदबन्ध:- क्रियाविशेषण का कार्य करने वाले पदसमूह को क्रियाविशेषण पदबन्ध कहते हैं, जैसे- रामू बड़े जोरों से रोता हुआ जा रहा था।

░I░m░p░o░r░t░a░n░t░ ░T░o░p░i░c░s░

पर्यायवाची शब्द? विलोम शब्द? क्रिया विशेषण?

Tense in Hindi संज्ञा की परिभाषा? विशेषण शब्द लिस्ट?

सर्वनाम किसे कहते हैं?

विभिन्न पदबन्धों का शब्दक्रम:-

१. संज्ञा पदबन्ध का शब्दक्रम:- संज्ञा पदबन्ध (sangya padbandh) को वाक्य के आरम्भ में रखा जाता है, जैसे मिट्टी का तेल महँगा है।

२. सर्वनाम पदबन्ध:- का शब्दक्रम -सर्वनाम पदबन्ध को लुप्त सर्वनाम के पहले रखा जाता है, जैसे- –बराबर हारने वाले (तुम) कैसे जीत गए ?
यहाँ ‘बराबर हारने वाले’ सर्वनाम पदबन्ध है, जो लुप्त ‘तुम’ के पहले आया है।

३. विशेषण पदबन्ध का शब्दक्रम:- विशेषण पदबन्ध को वाक्य में आए हुए संज्ञा या सर्वनाम के पहले रखा जाता है; जैसे- आकाश में उगा हुआ इन्द्रधनुष देखो।यहाँ ‘आकाश में उगा हुआ विशेषण पदबन्ध को ‘इन्द्रधनुष’ संज्ञा के पहले रखा गया है।

४. क्रिया पदबन्ध का शब्दक्रम:- क्रिया पदबन्ध को वाक्य के अन्त में रखा जाता है, जैसे- बूढ़ा उठता-बैठता जा रहा है।

यहाँ ‘उठता-बैठता जा रहा है क्रिया पदबन्ध है, जो वाक्य के अन्त में आया है।

५. क्रियाविशेषण पदबन्ध का शब्दक्रम क्रियाविशेषण पदबन्ध वाक्य में आई हुई क्रिया के पहले रखा जाता है; जैसे- अनिल मैदान में खेलते हुए गिरा। यहाँ ‘खेलते हुए’ क्रियाविशेषण पदबन्ध ‘गिरा’ क्रिया के पहले आया है।

Tage:- पदबंध के कितने भेद होते हैं, padbandh class 10, Padbandh, padbandh ke bhed, padbandh ke kitne bhed hote hain, पदबंध किसे कहते हैं, पदबंध किसे कहते हैं उदाहरण सहित स्पष्ट कीजिए l

  • मातृ दिवस पर निबंध 2023 – Best Mother’s Day Essay in Hindi

    मातृ दिवस पर निबंध (Mother’s Day Essay in Hindi) Mother’s Day Essay In Hindi: मदर्स डे हर किसी के लिए एक अहम दिन होता है। एक माँ अपने बच्चे की पहली शिक्षक होती है। एक शिक्षक जो एक मित्र की भूमिका भी निभाता है। एक माँ अपने बच्चे के जन्म से लेकर उसके जीवित रहने … Read more

  • स्वतंत्रता दिवस पर निबंध 2023 – Best Independence Day Essay

    स्वतंत्रता दिवस पर निबंध (Independence Day Essay in Hindi) 15 अगस्त 1947 भारतीय इतिहास का सबसे शुभ और महत्वपूर्ण दिन था जब हमारे भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने भारत देश को आजादी दिलाने के लिए अपना सब कुछ कुर्बान कर दिया था। भारत की स्वतंत्रता के साथ, भारतीयों ने पंडित जवाहरलाल नेहरू के रूप में अपना … Read more

  • 26 जनवरी, गणतंत्र दिवस पर निबंध – Republic Day Essay in Hindi

    गणतंत्र दिवस पर निबंध – Republic Day Essay 26 जनवरी भारत के तीन महत्वपूर्ण राष्ट्रीय पर्वों में से एक है। 26 जनवरी को पूरे देश में बड़े उत्साह और सम्मान के साथ गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। भारत का गणतंत्र और संविधान इसी दिन लागू हुआ था। इसीलिए यह दिन हमारे देश … Read more

  • नारी शिक्षा पर निबंध – Best Nari Shiksha Essay in Hindi 2023

    नारी शिक्षा पर निबंध – Nari Shiksha Essay in Hindi प्रस्तावना – हमारा समाज पुरुष प्रधान है। यहां यह माना जाता है कि पुरुष बाहर जाते हैं और अपने परिवार के लिए कमाते हैं। महिलाओं से अपेक्षा की जाती है कि वे घर पर रहें और परिवार की देखभाल करें। पहले इस व्यवस्था का समाज … Read more

  • Best Circus Essay in Hindi – सर्कस पर निबंध इन हिंदी – 2022

    Circus Essay in Hindi – सर्कस पर निबंध इन हिंदी सर्कस भी मनोरंजन का एक साधन है। जिसे हर उम्र के लोग पसंद करते हैं। सर्कस में तरह-तरह के करतब किए जाते हैं। शेर, हाथी, भालू आदि जंगली जानवरों को सर्कस में प्रशिक्षित किया जाता है और विभिन्न खेल और चश्मे दिखाए जाते हैं। वहीं … Read more

  • वर्षा ऋतु पर निबंध – Best Rainy Season Essay in Hindi 2022

    वर्षा ऋतु पर निबंध (Rainy Season Essay in Hindi) साल के मौसम हमारे लिए बहुत सारी खुशियाँ लेकर आते हैं। भारत में मानसून एक बहुत ही महत्वपूर्ण मौसम है। वर्षा ऋतु मुख्य रूप से आषाढ़, श्रवण और वडो के महीनों में होती है। मुझे बरसात का मौसम बहुत पसंद है। यह भारत में चार सत्रों … Read more

Leave a Comment