Best padbandh class 10: पदबंध (Phrase) के कितने भेद होते हैं

Padbandh class 10: पदबंध:-

वाक्य के उस भाग को जिसमें एक से अधिक पद परस्पर सम्बद्ध होकर अर्थ तो देते हैं, पर पूरा अर्थ नहीं देते, पदबन्ध कहते हैं। पदबन्ध को वाक्यांश भी कहते हैं, जैसे- भोजन करने के पहले मैंने स्नान किया। इस वाक्य में भोजन करने के पहले पदबन्ध है।

Padbandh class 10: पदबंध (Phrase) के कितने भेद होते हैं?

पदबन्ध में मुख्यतः तीन बातों का होना आवश्यक हैl

(1) इसमें एक से अधिक पद होते हैं।

(2) पद इस तरह से सम्बद्ध होते हैं कि इनसे एक इकाई का निर्माण हो जाता है।

(3) पदबन्ध किसी वाक्य का अंश होता है।

पदबन्ध के कार्य क्या है?

१. संज्ञा का कार्य संपादित करना – जैसे रात भर जगनेवाला दिन में क्या काम करेगा ? यहाँ ‘रात भर जगनेवाला’ पद-समूह संज्ञा का कार्य कर रहा है।

२. सर्वनाम का कार्य संपादित करना जैसे इतनी व्यस्तता में रहने वाला मैं कभी सुख-चैन की जिंदगी नहीं बिता सका। यहां इतनी व्यस्तता में रहने वाला पद-समूह सर्वनाम का कार्य कर रहा है।

३. विशेषण का कार्य संपादित करना -जैसे- हाथ में आये हुए रुपये को भला कौन छोड़ता है। यहाँ ‘हाथ में आये हुए पद-समूह विशेषण का कार्य कर रहा है।

४. क्रिया का कार्य संपादित करना जैसे जब देखो वह रोता-कलपता रहता है। यहाँ रोता-कलपता रहता है’ पद-समूह क्रिया का कार्य कर रहा है।

५. क्रिया विशेषण का कार्य संपादित करना जैसे वह फुलवारी में टहलते हुए चिल्लाया। यहाँ ‘टहलते हुए’ पद-समूह क्रिया विशेषण का कार्य कर रहा है।

पदबंध के कितने भेद होते हैं?(padbandh ke kitne bhed hote hain):-

padbandh ke bhed- पदबन्ध के मुख्यतः पाँच भेद होते हैं:-

१. सज्ञा पदबन्ध

२. सर्वनाम पदबन्ध

३. विशेषण पदबन्ध

४. क्रिया पदबन्ध

५ क्रिया विशेषण पदबन्ध

१. संज्ञा पदबन्ध:- संज्ञा का कार्य करने वाले पदसमूह को संज्ञा पदबन्ध कहते हैं। जैसे रात को खाना देनेवाला आज गांव चला गया।

२. सर्वनाम पदबन्ध:- सर्वनाम का कार्य करने वाले पद-समूह को सर्वनाम पदबन्ध कहते हैं, जैसे- इतनी शीघ्रता से काम करनेवाला (मैं) कभी सफल नहीं हो सकता।

३. विशेषण पदबन्ध:- किसी संज्ञा अथवा सर्वनाम की विशेषता बतलाने वाले पद-समूह को विशेषण पदबन्ध कहते हैं, जैसे देश पर मर मिटनेवाले लोग हमेशा के लिए अमर हो गये।

४. क्रिया पदबन्ध:- क्रिया का कार्य करने वाले पदसमूह को क्रिया पदबन्ध कहते हैं; जैसे -गुलाब का पौधा प्रतिदिन फलता-फूलता जा रहा है।

५. क्रियाविशेषण पदबन्ध:- क्रियाविशेषण का कार्य करने वाले पदसमूह को क्रियाविशेषण पदबन्ध कहते हैं, जैसे- रामू बड़े जोरों से रोता हुआ जा रहा था।

░I░m░p░o░r░t░a░n░t░ ░T░o░p░i░c░s░

पर्यायवाची शब्द? विलोम शब्द? क्रिया विशेषण?

Tense in Hindi संज्ञा की परिभाषा? विशेषण शब्द लिस्ट?

सर्वनाम किसे कहते हैं?

विभिन्न पदबन्धों का शब्दक्रम:-

१. संज्ञा पदबन्ध का शब्दक्रम:- संज्ञा पदबन्ध (sangya padbandh) को वाक्य के आरम्भ में रखा जाता है, जैसे मिट्टी का तेल महँगा है।

२. सर्वनाम पदबन्ध:- का शब्दक्रम -सर्वनाम पदबन्ध को लुप्त सर्वनाम के पहले रखा जाता है, जैसे- –बराबर हारने वाले (तुम) कैसे जीत गए ?
यहाँ ‘बराबर हारने वाले’ सर्वनाम पदबन्ध है, जो लुप्त ‘तुम’ के पहले आया है।

३. विशेषण पदबन्ध का शब्दक्रम:- विशेषण पदबन्ध को वाक्य में आए हुए संज्ञा या सर्वनाम के पहले रखा जाता है; जैसे- आकाश में उगा हुआ इन्द्रधनुष देखो।यहाँ ‘आकाश में उगा हुआ विशेषण पदबन्ध को ‘इन्द्रधनुष’ संज्ञा के पहले रखा गया है।

४. क्रिया पदबन्ध का शब्दक्रम:- क्रिया पदबन्ध को वाक्य के अन्त में रखा जाता है, जैसे- बूढ़ा उठता-बैठता जा रहा है।

यहाँ ‘उठता-बैठता जा रहा है क्रिया पदबन्ध है, जो वाक्य के अन्त में आया है।

५. क्रियाविशेषण पदबन्ध का शब्दक्रम क्रियाविशेषण पदबन्ध वाक्य में आई हुई क्रिया के पहले रखा जाता है; जैसे- अनिल मैदान में खेलते हुए गिरा। यहाँ ‘खेलते हुए’ क्रियाविशेषण पदबन्ध ‘गिरा’ क्रिया के पहले आया है।

Tage:- पदबंध के कितने भेद होते हैं, padbandh class 10, Padbandh, padbandh ke bhed, padbandh ke kitne bhed hote hain, पदबंध किसे कहते हैं, पदबंध किसे कहते हैं उदाहरण सहित स्पष्ट कीजिए l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *