किडनी क्या होती है? Kidney Meaning in Hindi – inhindimeaning

Kidney Meaning in Hindi, किडनी क्या होती है तथा kidney in hindi meaning जो निम्नलिखित है:-

░Y░o░u░ ░M░a░y░ ░a░l░s░o░░L░i░k░e░

एच.आई-वी./ एड्स जानकारी?

शुगर के लक्षण क्या है?

शुगर की आयुर्वेदिक इलाज क्या है?

फेफड़ों को स्वस्थ रखने के उपाय क्या है?

KIDNEY = वृक्क Pr. ( vrkk )

KIDNEY = गुर्दे Pr. ( gurde )

किडनी क्या होती है? Kidney Meaning in Hindi:- व्यक्ति के शरीर में दो किडनी Kidney (वृक्क)होते हैं जो नाभि के पीछे रीढ़ की हड्डी के दार्ँ बाएं लोबिए के आकार के होते हैं। गुर्दे शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग हैं इनके खराब हो जाने से व्यक्ति जीवित नहीं रह सकता।

वृहत्-धमनी की दो शाखाओं द्वारा रक्त दोनों किडनी ( Kidney)गुर्दों में पहुंचता है। भीतर पहुंचकर इस धमनी की अनेक शाखाएं होजाती है।रक्त इनके द्वारा कोशिकाओं के झुंड में पहुंचता है कोशिका दीवारों में से रक्त का कुछ जलीय अंश जाता है। यह तरल नली की दीवारों में से होकर उसके भीतर पहुंच जाता है।

नली का फूला हुआ सिरा छलनी (Filter) का काम करता है। स्वस्थ रहने पर इस छलनी में से प्रोटीन व शर्करा जैसे पदार्थ छनकर नली के भीतर नहीं पहुंच पाते। जो कुछ छनकर आता है, उसमें रक्त के कुछ लवण अवश्य आ जाते हैं। रोगी होने पर प्रोटीन व शर्करा छनकर पेशाब में चली जाती है, जिससे मधुमेह रोग होता है।

नली की मोटी-मोटी सेलों में यह स्वाभाविक शक्ति है कि ये रक्त के जलीय अंश में से पूरिया, यूरिक एसिड आदि पदार्थ ले लें और उनको नली के भीतर पहुंचा दें। नली के भीतर पहुंचकर यह पदार्थ उस तरल के साथ, जिसमें हानिकारकतत्व पुले रहते हैं, पतली- पतली गलियों में बहता हुआ बड़ी-बड़ी नदियों में पहुंचती है। यहां से यह तरल मूत्र प्रणाली में पहुंचता है। इसी का नाम ‘मूत्र’ है। यह यहां से मुत्ाशय में चला जाता है।

Kidney ( गुर्दे ) के खराब होने के कारण निम्नलिखित है:-

प्रोटीन युक्त भोजन जैसे-मांस, मछली, अडा, बिना छिलके की दालें तथा अन्य गरिष्ट चीजें को ग्रहण करने और शराब, सिगरेट आदि के सेवन से रक्त में यूरिया अधिक हो जाता है। ऑक्सीजन कम लेने, व्यायाम न करने और पसीना न आने के कारण रक्तशुद्धि नहीं हो पाती है।

पानी कम पीने से भी गुर्दे खराब हो जाते हैं। मानसिक तनाव भी गुर्दे के रोगों का कारण बनता है। रक्त में यूरिया तथा प्रोटीन अधिक होने से गुर्दों में पथरी बनने लगती है। इससे भी गुर्दे खराब होते हैं।

Kidney को स्वस्थ निम्नलिखित कारनों से ठीक रख सकते है:-

1. गुर्दे ( वृक्क )को स्वस्थ रखने का सबसे सरल उपचार पसीने द्वारा शरीर का विकार बाहर निकालना है। इसके लिए व्यायाम करें, वातानुकूलित कमरों में न बैठे, न सोएं।

2. Kidney को स्वस्थ रखने के लिए वाष्प स्नान (Steam Bath) करें। प्रतिदिन गर्म पांव के स्नान से पसीना लें और खूब मलकर स्नान करके त्वचा को सक्रिय करें।

3. गुर्दे को स्वस्थ रखने के लिए पानी, फल के जूस, सब्जियों के कच्चे रस, नारियल पानी, नीबू पानी, सब्जियों के सूप आदि अधिक मात्रा में लेने से गुर्दे साफ होते हैं, पेशाब खुलकर आता है, जिससे गुर्दे स्वस्थ रहते हैं।

4. प्रतिदिन सुबह उठकर रात को तांबे के लोटे में रखा एक लीटर पानी पीएं। दिन में ढाई-तीन लीटर पानी अवश्य पीना चाहिए एक-दो बार नीबू डालकर पीना लाभदायक है। सादा भोजन करें, शराब-मांस बिलकुल त्याग दें। ये दोनों चीजें गुर्दो की दुश्मन हैं। नमक का प्रयोग भी कम-से-कम कर दें। टमाटर और पालक भी गुर्दो के लिए अच्छे नहीं होते।

किडनी क्या होती है? Kidney Meaning in Hindi - inhindimeaning
Kidney

यदि गुर्दे सही काम न कर रहे हों तो इदयाघात का खतरा ज्यादा बना रहता है। इसलिए गुर्दो को सही रखने के लिए अनेक योग, विशेषकर वरुण छाल का काढ़ा, जो वरूणादि क्वाथ नाम से बाजार में मिलता है, हितकर है। इसी प्रकार एक अन्य औषधि, जिसका रूसी लोग गुर्दे की क्रिया ठीक रखने के लिए प्रयोग करते हैं ‘पोल पोला’ नाम से बाजार में मिलती है। इसका काढ़ा बनाकर पीना चाहिए।