Best 48 different types of clothes name in Hindi and English

Different types of clothes name in Hindi and English and dress name:-

░Y░o░u░ ░M░a░y░ ░a░l░s░o░ ░L░i░k░e░

Food items names list

Household items name

Tree Name in Hindi and English

In this post, you can learn the various types of Indian dresses name list in Hindi and English. That means Different types of clothes name in Hindi and English. It is very helpful for every person who wants to know about dresses name. It is a very helpful dress name for students also. It is provided in Hindi meaning – Meaning in Hindi.

Different types of dresses names with pictures:-

इस पोस्ट में, आप विभिन्न प्रकार के भारतीय परिधान नाम सूची हिंदी और अंग्रेजी में सीख सकते हैं। इसका मतलब है कि हिंदी और अंग्रेजी में विभिन्न प्रकार के कपड़े का नाम है। यह हर उस व्यक्ति के लिए बहुत मददगार है जो कपड़े के नाम के बारे में जानना चाहता है। यह छात्रों के लिए भी एक बहुत ही उपयोगी पोशाक का नाम है।

different types of clothes name in Hindi and English

छोटा कोट

Jacket = (जैकेट) छोटा कोट

different types of clothes name in Hindi and English

धागा

Thread = (थ्रेड) धागा

different types of clothes name in Hindi and English

दस्ताने

Gloves = (ग्लोब्स) दस्ताने

different types of clothes name in Hindi and English

तौलिया

Towel = (टॉवल) तौलिया

Dresses and clothes name list:-

Dresses & clothes name in EnglishProunsesionDresses & Clothes name in Hindi
Clothक्लोथकपड़ा
Clothesक्लोद्जकपड़े
Shirtशर्टकमीज
Blanketब्लैंकेटकम्बल
Bodiceबॉडिसअंगिया
Drillड्रिलजीन
Lacesलेसिसतस्मे
Liningलाइनिंगअस्तर
Sleeveस्लीवआस्तीन
Napkinनैपकिनअंगोछा
Socksसाक्सछोटा मोजा
Gauzeगॉजजाली
Pocketपॉकेटजेब
Timingटाइमिंगझालर
Scarfस्कार्फदुपट्टा
Threadथ्रेडधागा
Towelटॉवलतौलिया
Glovesग्लोब्सदस्ताने
Buttonबटनबटन
Chesterचेस्टरबड़ा कोट
Velvetवेल्वेटमलमल
Stockingsस्टोकिंग्समोजे
Borderबार्डरकिनारा
Coatकोटकोट
Suitसुटकोट – पतलून
Cushionकुशनगद्दा
Bracesब्रासिजगैलिस
Mufflerमफलरगुलूबन्द
Skirtस्कर्टघाघरा
Veilवेलघूँघट
Sheetशीटचादर
Quiltक्विल्टरजाई
Darningडार्निंगरफ्फू
Silkसिल्करेशम
Cottonकॉटनरूई
Gownगाउनलबादा
Shawlशालदुशाला
Pantaloonपैंटलूनपतलून
Pyjamaपायजामापायजामा
Jacketजैकेटछोटा कोट
Tapeटेपफीता
Petticoatपेटीकोटलहंगा
Uniformयूनिफार्मवर्दी
Turbanटर्बनसाफा, पगड़
Satinसाटिनसाटन
Yarnयानसूत
clothes name in Hindi and English

Dresses and clothes Name:-

मनुष्य का ड्रेस कोड कपड़े पहनने का नियम है (जो विभिन्न समाजों में भिन्न हो सकता है)। मनुष्य के भौतिक पहलुओं की तरह कपड़ों का भी सामाजिक महत्व है। वेशभूषा संहिता में ऐसे नियम शामिल हैं जो किसी व्यक्ति के कपड़ों को नियंत्रित करते हैं और उन्हें कैसे पहनते हैं।

यदि कोई व्यक्ति कोट पैंट जैसे सभ्य कपड़े पहन रहा है, तो यह अनुमान लगाया जा सकता है कि वह एक बड़ा अधिकारी या किसी क्षेत्र में उच्च पद पर काम करने वाला व्यक्ति है। इस आधार पर, हम कह सकते हैं कि पोशाक व्यक्ति को पहचानती है। हमारे जीवन में पोशाक का बहुत महत्व है। पोशाक सिर्फ शरीर को ढंकने के लिए नहीं है। यह हमें मौसम से बचाता है।

कपड़ों का आविष्कार न केवल भारत में हुआ, बल्कि ग्रीक, रोमन, फारसी, हुन, कुशन, मंगोल, मुगल आदि में भी हुआ। हालाँकि परिवर्तन के कारण कई नए वस्त्र प्रचलन में थे और भारतीयों को ब्रिटिश काल में पहले की तुलना में अधिक आरामदायक महसूस हुआ, भारतीयों की पोशाक पूरी तरह से बदल गई थी।

हम पेंट्स, शर्ट, कोट और जींस को आधुनिक कपड़े कहते हैं, पश्चिमीकरण नहीं। आधुनिकता और पश्चिमीवाद में अंतर है। औद्योगिक क्रांति के दौरान कई ऐसे वस्त्र, वस्त्र या वस्त्र विकसित हुए, जिन्हें अब हम पश्चिमी सभ्यता का उपहार कहते हैं। जबकि किसी भी तरह से कपड़े पहनने का कोई तरीका नहीं है, यह समझना महत्वपूर्ण है कि हम ऐसे कपड़े क्यों पहनते हैं जो हमारी संस्कृति से मेल नहीं खाते हैं।

जैसे-जैसे हम बोलते हैं वैसे-वैसे फ़ैशन उद्योग भी विकसित होता जाता है। ट्रेंड के साथ लेफ्ट और राईट को जोरदार फ्लो किया जा रहा है, यह महत्वपूर्ण है कि किस चीज के साथ तालमेल बैठाया जाए और क्या नहीं।

प्रत्येक व्यक्ति एक ऐसी शैली को अपनाने का हकदार है जो परिभाषित करता है कि वे एक व्यक्ति के रूप में क्या हैं और वे किस चीज में सहज महसूस करते हैं।

Teg:- clothes names list, clothes name with picture, types of fabrics with pictures, clothes name list in english, different names of clothes in hindi.

बवासीर के लक्षण और उनसे बचने के उपाय

बवासीर के लक्षण बवासीर एक आम समस्या है जो किसी भी उम्र के व्यक्ति को प्रभावित कर सकती है। यह तब होता है जब मल त्याग करने वाली नसें सूज जाती हैं और गुदा के आसपास की त्वचा के नीचे बढ़ जाती हैं। बवासीर के दो मुख्य प्रकार होते हैं – आंतरिक बवासीर और बाहरी…

Continue Reading बवासीर के लक्षण और उनसे बचने के उपाय

बवासीर के मस्से सुखाने के उपाय | Piles Treatment in Hindi

बवासीर के मस्से सुखाने के उपाय बवासीर एक आम समस्या है जो किसी भी उम्र के व्यक्ति को प्रभावित कर सकती है। यह तब होता है जब मल त्याग करने वाली नसें सूज जाती हैं और गुदा के आसपास की त्वचा के नीचे बढ़ जाती हैं। बवासीर के दो मुख्य प्रकार होते हैं – आंतरिक…

Continue Reading बवासीर के मस्से सुखाने के उपाय | Piles Treatment in Hindi

फोबिया: सबसे अच्छा आयुर्वेदिक और मनोवैज्ञानिक उपचार

फोबिया: एक परिचय यह एक मानसिक स्वास्थ्य समस्या है जिसमें किसी विशिष्ट चीज़, स्थिति, या जीवन्त वस्तु के प्रति असमान संवेदनशीलता होती है। यह दर, घबराहट, और शारीरिक असामर्थ्य के साथ आ सकता है। फोबिया क्या है? Phobia एक मानसिक स्वास्थ्य समस्या है जिसमें व्यक्ति किसी विशेष चीज़, स्थिति, या प्राणी से गहरा डर प्राप्त…

Continue Reading फोबिया: सबसे अच्छा आयुर्वेदिक और मनोवैज्ञानिक उपचार

Motiyabind Kya Hai (मोतियाबिन्द मीनिंग) – व्याख्या और उपयोग

Motiyabind Kya Hai(मोतियाबिन्द मीनिंग) क्या आपको पता है कि “मोतियाबिन्द” शब्द का क्या मतलब होता है और इसका कैसे उपयोग किया जाता है? यदि नहीं, तो इस लेख में हम आपको “मोतियाबिन्द” शब्द के मतलब और इसके विभिन्न प्रकारों की व्याख्या देंगे और यह भी बताएंगे कि आप इसे अपने जीवन में कैसे उपयोग कर…

Continue Reading Motiyabind Kya Hai (मोतियाबिन्द मीनिंग) – व्याख्या और उपयोग

Motiyabind Operation (मोतियाबिंद ऑपरेशन): आंखों की स्वास्थ्य के लिए नई उम्मीद

Motiyabind Operation: मोतियाबिंद ऑपरेशन, जिसे आंखों के कई रोगों का इलाज के रूप में किया जाता है, आजकल आंखों के स्वास्थ्य को सुधारने के लिए एक महत्वपूर्ण तकनीक बन गई है। यह तकनीक आंखों के कई प्रकार के रोगों के इलाज के लिए उपयोगी है, और यह एक नई आशा का स्रोत है जिसे लोग…

Continue Reading Motiyabind Operation (मोतियाबिंद ऑपरेशन): आंखों की स्वास्थ्य के लिए नई उम्मीद

Motiyabind ke Lakshan (मोतियाबिंद के लक्षण) और मुख्य कारण

Motiyabind ke Lakshan: Motiyabind ke Lakshan:मोतियाबिंद क्या होता है?मोतियाबिंद के प्रमुख लक्षणमोतियाबिंद के लक्षणों का कारणमोतियाबिंद के उपचारमोतियाबिंद के उपचार की समय सीमामोतियाबिंद के उपचार के बाद का सावधानीपूर्ण ध्यानमोतियाबिंद के उपचार के बाद के लाभमोतियाबिंद के लक्षण को अनदेखा न करेंमोतियाबिंद के लक्षण: अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)मोतियाबिंद क्या होता है?मोतियाबिंद के उपचार…

Continue Reading Motiyabind ke Lakshan (मोतियाबिंद के लक्षण) और मुख्य कारण

Leave a Comment